IOS क्या होता है ? पूरी जानकारी | ios kya hai | इसके विशेषताए क्या है

IOS kya hai hindi
IOS kya hai hindi

दोस्तों हम अक्सर phone में IOS के बारे में सुनते है जैसे कोई IOS का version आया है इसीलिए आज आपकी ये सारी समस्याए दूर हो जाएगी जैसे IOS kya hai ,ios कैसे काम करता है और ios विभिन्न android से कैसे अलग है | तो चलिए शुरू करते है | दोस्तों सबसे पहले हम जानेगे कि iOS क्या है?

iOS क्या है? (What is IOS in hindi )

IOS apple incorporated द्वारा बनाया गया operating system हैं। जो apple के सभी mobile devices पर run करती हैं। Android के बाद iOS दुनिया भर में दूसरी सबसे मशहूर mobile operating system हैं। IOS इस्तेमाल करती है एक multi touch interface को जिसमें simple gesture की मदद से device को operate किया जाता है। simple gestures का मतलब है, जैसे mobile का screen के ऊपर अपनी उंगली को swipe up करना।

IOS kya hai hindi
IOS kya hai hindi

 

जिससे अगले pages पर जाके काम किया जा सके और screen को zoom करने और उंगलियों से pinch करना। ये सब काम आप iOS में freely कर सकते हैं। iOS अपने devices के sensor को बहुत मजबूत बनाता है। जो आपके उंगलियों को तुरंत detect कर आपका काम आसान कर देता हैं।

IOS apple device hardware के सभी पहलु को control करता है। साथ ही software के सभी कार्य को भी यही सभालता हैं। इसका मतलब है कि iOS अपने user को एक complete experience देता है। जहाँ software को hardware के साथ चतुराई से जोड़ा जाता है। जिससे user को device के hardware से बेहतर performance प्रापत होती है।

Apple के App Store में 2 million से ज्यादा iOS application download करने के लिए उपलब्ध है। जो सभी mobile Device का सबसे मशहूर App Store है और दोस्तों अब जांनेगे कि iOS का इतिहास क्या है?

और पढ़े – Database क्या होता है ?

Apple iOS का इतिहास क्या है ? (About iOS system)

दोस्तों 2005 में जब Steve jobs  ने iphone कि योजना बनाना शुरू कि तो उनके पास दो विकल्प थे।

पहला MAC यानी mac को छोटा करने का जो apple company का मकसद  और दूसरा था |Ipod को और बड़ा करना इस समस्या को सुलझाने के लिए mac and iPod बनाने वाले दल से मिले और इसके बाद उनहोने iPhone के लिए iOS बनाने का निर्णय लिया।

उसके बाद साल 2007 जनवरी में iPhone के साथ नया operating system release किया गया। iPhone के release के समय operating system का नाम iPhone OS रखा गया था।

शुरूआत में iPhone कि OS में कोई भी 3rd party device में run कि इजाजत नहीं दी गई थी। steep jobs का विचार था कि कोई application developers safari web browser के जरिए web apps को develop कर सकते हैं। ताकि iPhone web apps के ऊपर निर्भर करे। जो native apps यानी देशी apps कि तरह व्यवहार करेगा।

 

IOS kya hai hindi
IOS kya hai hindi

 

October 2007 में apple ने घोषणा कि एक मूल software development Kit SDK में है, और उनहोने इसे developers के हाथो में फरवरी में रखने कि योजना बनाई गई।
6 मार्च 2008 में iPhone SDK बनकर तैयार हो गया था। और इसकी घोषणा की गई। 10 जुलाई 2008 में iOS App Store को खोला गया। जिसमें शुरूआत में सिर्फ 500 application मौजूद थे। लेकिन September 2008 से लेकर 2017 तक इसकी संख्या 2.2 million हो गई थी।

इन app को सामूहिक रूप में 330 अरब से download किया गया था, जो कि बहुत बड़ी बात थी। September 2007 में apple ने iPod कि घोषणा की। उसके बाद जनवरी 2010 में iPad कि घोषणा कि जिसमे iPhone और iPad कि तुलना में बड़ी screen थी।

जिसे web browsing, media consumption and reading के लिए design किया गया था। June 2010 में apple ने iphone OS को iOS के नाम से बदल दिया। पहले apple os ज्यादा programme को संभाल नही पाता था। इसलिए उन्हें विवस होकर नया mobile operating system iOS बनाना पड़ा।

और पढ़े – Mobile app कैसे काम करता है ?

वर्तमान IOS पुराने IOS से कैसे अलग है ?

apple का iOS वर्तमान का मुख्य software हैं। जो iPhone, iPad, iPod touch and iPad mini mobile के सभी models पर चलता है। और apple के smart watch पर भी यही software काम करता है।

apple iOS में जब भी कोई नया feature add करना पड़ता है तब इसे software update कहा जाता है । apple हर साल ios का नया version लाते रहता है ।वर्तमान में ios का latest version है ।

IOS 12 जिसे September 2018 को release किया गया है ।इस नए version में performance और quality improvement पर ज्यादा ध्यान दिया गया है । ios के लिए मुख्य है। hardware platform arm architecture है । ios आज से पहले जितने भी ios device है ,उनमे केवल 32 bit arm processor के साथ device पर चलाया जा सकता है। लेकिन 2013 में iOS को 64 processor के साथ release किया गया है।

Apple का नया version iOS 12 उन सभी devices पर मिल जाएगा जो 64 bit processor पर run कर रहा है। iOS कि ये एक खास बात है , कि जब भी इसमे features add किए जाते है तो ये तुरंत ही apple कि सभी devices software update के लिए इजाजत दे देता है।

जबकि दूसरे mobile operating system में नये featureके release होने के बाद भी उसे अपने device में पाने के लिए इंतज़ार करना पड़ता है और दोस्तों हमने जाना  IOS kya hai अब जानगे कि iOS दूसरे operating system से अलग कैसे हैं?

iOS दूसरे operating system से कैसे अलग हैं?

IOS दूसरे operating system से बिल्कुल अलग है। क्युकि ये अपने device मे मौजूद सभी app को अपने को protective cell को अपने अंदर रखता है । जिससे app दूसरे cells से दूर रहे और एक दूसरे के काम मे दखल अंदाजी ना करे।

 

IOS aur android ke bich antar kya hai

 

IOS को इस प्रकार design किया गया है ताकि device में अगर गलती से भी app के जरिए virus आ जाता है तो वो दूसरे app को नुकसान पहुंचाने में ना काम्याब हो सके । जबकि दूसरे operating system मे ऐसा कोई feature देखने को नहीं मिलता है ।

IOS मे जो protective sell होते है वो apps के घेरे हुए है । इसलिए उनके कारण apps मे बहुत सी कमिया भी आ जाती है ।कयोंकि एक app दूसरे app से direct communicate नहीं कर पाते है । जैसे हम android OS के device मे देखते हैं कि अगर कोई news कि link whatsapp पे भेजी हो तो हम उसे किसी भी browser जैसे chrome कि मदद से खोल कर देख पाते है ।

इसमे Whatsapp chrome के app के साथ direct communicate कर पाता है । यही feature मे ios device मे नहीं मिलती है ।लेकिन ये एक अलग ही feature का उपयोग करता है जिसे extancebility कहते हैं । ये feature एक app को दूसरे app के साथ communicate करने के लिए user से approval मांगने की इजाजत प्रदान करते है। बिना approval के एक app का दूसरे app के बीच communicate करना ना मुमकिन है ।

IOS तथा android में क्या अंतर है ?

IOS andirod OS के बीच एक मुख्य अंतर है जो कि लोगो को बहुत अधिक पसंद आती है । वो ये है कि android के साथ आपको choice मिलती है ।जिसमे आप दूसरे company के phone का इस्तेमाल कर सकते हैं ।

जिनमे android operating system को load किया जाता है जैसे Samsung, LG, HTC, Xiomi, Micromax जबकि ios एक uniform platform है। जो कि apple के द्बारा बनाई गई device पर हि run कर सकता है ।

 

अंतिम शब्द

दोस्तों हमे आशा है कि  आपको ios से जुडी सारी जानकारी मिली होगी साथ ही आपके ios से सम्बंधित सारे confusion दूर हो गए होंगे क्योकि इसमें हमने बात की IOS kya hai और इसके इतिहास के बारे में साथ ही ios और android के बीच क्या अंतर है ? दोस्तों इसके अलावा कोई प्रश्न हो तो आप comment कर सकते है साथ ही इस पोस्ट को आप अपने दोस्तों के साथ साझा भी कर सकते है |

 

और पढ़े – facebook & Instagram ad कैसे चलते है ?

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here