Database क्या है ? | पूरी जानकारी Database kya hai hindi

database kya hai notes
database kya hai notes

नमस्कार दोस्तों आज का दौर Digital चीजो का दौर है। और इसी digital दुनिया में database का बहुत अहम् roll है | आज इस पोस्ट में हम आपको  बताने वाले है database kya hai  साथ ही database model के प्रकार इसके साथ ही database की क्या लाभ होती है और इसकी पूरी जानकारी notes जानेंगे  | इसके साथ ही क्या आप जानते है database का उपयोग बड़े पैमाने में किया जाता है अर्थात लगभग सारी कंपनिया जिसमे कुछ कंपनियों का खुद का database centre है और कुछ company database रखने के किराया देती है | तो चलिए इसे हम विस्तार से जानते है |

database kya hai 
database kya hai

हमारे प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व मे हमारा India Digital India बन रहा हैं। मेरे Digital कहने का ये मतलब है कि हम प्रतिदिन जो भी दैनिक काम करते है वो अब अनेक चीजे हम Computer अपने Mobile phone के माध्यम से करते है। जैसे Messege ,Email ,Books, nobles ,Online shopping, Ticket reserveation extra पहले ये सब काम paper work में होता था। जिसके वजह से अनगिनत applications ओर record अपने House,  office के अलमारी  drawer में इन सभी चीजो को store कर के रखते थे।

Documents को इस अनुसार रखा जाता था और जरुरत पडने पर आसानी से ढूढा जा सकता था ।लेकिन अब वो जमाना गया। जिन कामों में हमें कागज कि जरुरत पडती थी। अब उसकी जगह हम कपंयूटर का इस्तेमाल करते हैं। Documents को अब अलमारी या टेबल में नहीं बल्कि कपंयूटर या इंटरनेट में store कर के रखा जाता हैं। कंपयूटर में इन डाटा को serial wise रखा जाता है। जिसे हम Database कहते है।

अगर आप कंप्यूटर को जरा भी पढा़ होगा तो आपने database का नाम जरूर सुना होगा। जहाँ data को सुरक्षित रखा जाता है। अगर आप database के बारे में कुछ नहीं जानते तो परेशान होने का बात नहीं है| आगे हम database के  बारे में पूरा जानेंगे |database kya hai

database kya hai  ? (What is Database in hindi)

Database जानकारियों का संग्रह है। जहाँ सभी जरुरी जानकारियों को store करके रखा जाता है। इसे अगर किताबी भाषा में जाने तो। Database is a collection of related data or information that is stored in a computer system data.  किसी भी information का छोटा सा हिस्सा होता है। जो किसी person or place से जुड़ी होती हैं। जैसे –  नाम, उम्र, ऊँचाई , मोबाइल नंबर, घर का पता, वयवसाय आदि ये सब किसी person से जुड़ी हुई data है।

Data किसी भी अलग अलग प्रकार मे हो सकते हैं, जैसे text, numeric ,alpha numeric, file, graph आदि । जब इन data को एक साथ organise किया जाता है ,तो वो information बन जाता है ,और information के समुह से database बन जाता है ।

तो दोस्तों हमने जाना database kya hai आइये अब जानते है database के कितने प्रकार होता है। Database में data को कैसे organised और manipulate किया गया है , और उसका structure data model से पता चलता है। इससे ये भी पता चलता है कि database में data किस प्रकार जुड़ा होता है। और उनके बीच में संबंध कैसा है ?

Database Model के कितने प्रकार है ?

दोस्तों Database Model तीन प्रकार के होते हैं –

  1. Hierachical Database Model
  2. Network Database Model
  3. Relational Database Model

तो दोस्तों आइए हम सबसे पहले जानते है —

  1. Hierachical Database Model –  इस प्रकार के database मे datatable के साथ Tree Structure मे व्यवस्थित किया जाता है । इस Model में Record आपस में जुडने के लिए Tree Structure को Follow किया जाता है । यहा पर सबध को Child और Parents के रूप में देखा जाता है । उदाहरण के लिए एक College मे बहुत सारे Colleges ,profesers और student होते हैं तो College imparent हुआ और Profesers और Students उसके Child हुए ।
  2. Network Database Model  इस प्रकार के Database मे Data को Record के रूप में दिखाया जाता है और Data के बीच सबधं link के रूप में दिखाया जाता है। ये model काफी powerful है, और complicated भी है। कयोंकि इसमें बहुत सारे notes या tableआपस में link होता है ।और दोस्तों 
  3. Relational Database Model –  ये बहुत ही powerful और simple है। इस model का structure table जैसा होता है। और ये tableको database के भाषा में relation कहते है, इसलिए इसका नाम relational modem है। ये table जैसा होता है, इसलिए इसमें rows and columbs होते है। इस model को unique field key कहते है। इसके जरिए tables को connect किया जाता है। जैसे एक student table में Roll no. कि होती है, जिसमें table को connect करना बहुत आसान होता है। 

Database Management System क्या है ? (What is DBMS )

दोस्तों database management system जिसे हम DBMS भी कहते है। ये एक software है, जो जिसके जरिए database को create define and maintain करता है। इसके उदाहरण हैं |

  • My SQL
  • Microsoft access
  • Oracle
  • fox pro
  • DB2

DBMS का इस्तेमाल आमतौर पर database को maintain करने में किया जाता है। मतलब आप data को database में insert ,delete  access , update कर सकते हैं। उदाहरण के लिए जैसे आपने एक database बनाया student table इसमें आपको student के detail को add करना है। तो आप insert के जरिए add कर सकते हैं।

अगर जाने अनजाने में अपने गलत detail दे दिया है तो उसमें सुधार करना होगा। तो ये आप edit के जरिए कर सकते हैं। कुछ दिन बाद आपको पता चला कि student का data पूरा गलत है, तो आपको उसे delete करना होगा।

किसी student के roll no. Name address पता करना हो तो database से आप जान सकते हैं। जिसे axis कहते है। जो data पहले से ही मौजूद है , और उसमें आप बदलाव कर रहे है तो , उसे update कहते हैं।  तो दोस्तों ये सारा काम आप DBMS के जरिए किया जाता है। दोस्तों आइये अब जानते हैं database के लाभ या  फायदे

database kya hai
database kya hai hindi

Database के लाभ

दोस्तों database के कई सारे लाभ है आइये इसे बारीकी से समझते है –

  • database के जरिए कम जगह में भी ज्यादा data store किया जाता है |
  • database की मदद से आप कोई भी जानकारी को आसानी से access कर सकते है |
  • नया data को insert करना, पुराना डाटा को edit करना और delete करना आसान होता है।
  • data को अलग अलग प्रकार से sort किया जाता है।
  • इसमें आप एक database को multiple users के साथ  access कर पाते  हैं।
  • paper file के तुलना में अधिक security प्रदान करता है। कयोंकि यहाँ बिना इजाज़त के कोई भी database को access नहीं कर सकते हैं।
  • Redundancy को कम करता है, एक ही तरह के डाटा का बहुत सारा जगह duplication को हम data redundancy कहते है।
  • backup और recoveryजैसे सुविधा प्रदान करता है |
  • failure जैसे समस्याएं database के भीतर  होने की सम्भावना होती है  इस स्थिति में अगर data को recover नही करेंगे तो काफी बड़ा नुकसान हो सकता है। इसी कारण से  DBMS  (Database Managment System ) software recovery जैसी  सुविधा प्रदान करती है |

दोस्तों database kya hai और database के  लाभ जानने के बाद अब जानते है कि database  का उपयोग कहाँ होता है ?

Database का उपयोग कहाँ होता है ?

Database का use हर जगह होता है। या ये भी बोल सकते है कि database के बिना internet कुछ भी नहीं है। database का use Banking, Railway reservation system Airlines Library management system, School, college, university, social media sites , facebook ,twitter, online shopping sites , Amazon,etc.

Database में data और information organise कर के रखा जाता है। जिसमें information कि जरुरत पडने पर आसानी से access manage और update किया जाता है| साथ ही साथ ये Datasharing or Datasecurity को नियंत्रण करता है ।

Information को store software का नियत्रंण किया जाता है | जैसे Ms. Excel इसमें सारे information को input करने के बाद computer के Hard disk में store किया जाता है। Ms. Excel में data को store करने के लिए एक Table का उपयोग करते हैं। जिसे हम अलग अलग सारे Columb और row में divide करते है, ताकि हम आसानी से इसमें data डाल सकते हैं |

और जरुरत पडने पर इसे access और modify यानि बदलाव कर सके , ठीक उसी तरह Data base में भी Data को एक table मे store किया जाता है।  इसमें उपस्थित rows और columns के कारण data को आसानी से access कर सकते है |

एक database  के अंदर ऐसे कई सारे Tables हो सकते है। Internet पर मौजूद कई सारे websites है, जो database का उपयोग करती है। उदाहरण के लिए आप facebook को ही ले लीजिए । जिसमें user के बारे में कई सारे data उसका नाम मोबाइल नंबर profile picture, friends messages, post , status आदि सभी details serverमें उपास्थि database में store रहते हैं।

database kya hai notes
database kya hai ( what is database)

अगर हम अपने facebook account में से एक person के बारे में जानकारी पाने के लिए search करते हैं तब facebook के database से हमे सारी जानकारी मिल जाती है। इसी तरह और भी कई बड़ी बड़ी government private or personal website है, जो database का इस्तेमाल करते है।

दोस्तों आज कल online banking ,paytm, Online ATM मैं Database का खास योगदान होता है। इनके तहत सारे जानकारिया database में store होता है।जिन्हें अपनी सुविधा अनुसार access किया जाता है। जैसे कि आपके bank account को आप कहीं भी हो तो आप उसे अपने मोबाइल से या कंप्यूटर कि मदद से access कर आवश्यक सूचना पा सकते हैं।

Artificial Intelligence ख़ुफ़िया  कैसे काम करती है | पूरी जानकारी 

दोस्तों अब जानते हैं database के मुख्य elevance  के बारे मे किसी भी database के तीन मुख्य elements होते है।

  1. Field,
  2. Record,
  3. Table.

उदाहरण के लिए हम एक स्कूल के बच्चों के लिए student table बनाते है । जिसमें अलग अलग बच्चों के नाम , विषय और marks का table रहेगा।

उदाहरण

  •  पहला नाम है Rahul ये class 10 मे पढ़ता है , subject है maths इसके marks है 80
  • दूसरा नाम है Anuj ये class 10 में पढता है, subject हैं english इसके marks है 65 है
  • तीसरा नाम है Meera ये class 11 मै पढती है ,subject हैं Biology marks है 75.
  • चौथा नाम है .Rohan ये class 11 मे पढ़ता है इसका subject है chemistry और इसके marks 60
  • पाचवा नाम है .Jyoti ये class 12 में पढ़ती है इसकी subject है hindi और इसके marks है 85

दोस्तों अब जानते है field के बारे में किसी भी database के Columb को field कहा जाता है। जैसे उपर दिए गए student table में जो Columb है serial no. Name class subject marks इन सभी को field कहते है। database kya hai इससे जुडी हर जानकारी जानने के बाद अब हम जानते हैं record के बारे में किसी टेबल के rows को हम record कहते हैं। जैसे student table में 1,2,3,4,5 records दिए गए हैं। जिनमें student का नाम class subject marks का data भरा हुआ है, इन्हें records कहते हैं। table fields and records को लेकर computer table बनता है। इस table में कई सारे अलग अलग मगर इससे related data रहते हैं।

निष्कर्ष

तो दोस्तों आशा है कि आपको ये पोस्ट जरूर समझ आया होगा कि database kya hai database के कितने प्रकार होते है , database का उपयोग कहा कहा किया जाता है  साथ ही database के क्या लाभ है | database से सम्बंधित सारी जानकारी हमने इस पोस्ट के माध्यम से दी है |

हमारा एक ही उद्देश्य है आप तक सही और सटीक जानकारी देना तो दोस्तों ऐसे ही अपने  ज्ञान को बढाते रहे और हमसे जुड़े रहे और इसे आप दोस्तों के साथ साझा भी कर सकते है| धन्यवाद

Technology fact –  RAM के रोचक फायदे तथा इसका सरल उपयोग 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here